22 दिसंबर को बिक्रमगंज मे मनाया जाएगा शाहाबाद महोत्सव

ऐतिहासिक सांस्कृतिक तथा धार्मिक विरासत को बढ़ावा देने के लिए हो रहा है आयोजन
पहली बार पक्ष और विपक्ष सभी दल के लोग बैठेंगे एक साथ
सासाराम – पुराने शाहाबाद यानी रोहतास, भोजपुर, बक्सर तथा कैमूर जिले के ऐतिहासिक, धार्मिक व सांस्कृतिक विरासत को याद करते हुए उसे बढ़ावा देने के लिए आगामी 22 दिसंबर को बिक्रमगंज शाहाबाद महोत्सव का आयोजन किया गया है। इस आयोजन में पहली बार शाहाबाद के धरती पर सही राजनीतिक दल के लोगों ने एक साथ बैठकर अपनी गौरवशाली इतिहास को याद करते करते ऐतिहासिक व परंपरागत कला-संस्कृति को बढ़ावा देने का संकल्प लेंगे।
इस संबंध में शाहाबाद आयोजन समिति के संयोजक अखिलेश कुमार ने सासाराम स्थित परिसदन में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि शाहाबाद महोत्सव में रोहतास कैमूर भोजपुर तथा रोहतास जिले के प्रमुख खाद्य पदार्थों की प्रदर्शनी लगाई जाएगी। जिसमें चेनारी के गुड का लड्डू, कोआथ का बेलग्रामी, बक्सर का पापड़ी, बरांव का सिंघाड़ा मोकरी का चावल आदि का स्टॉल लगाया जाएगा। साथ ही साथ सभी ऐतिहासिक यानि राजा हरिश्चंद्र के काल से लेकर वर्तमान समय तक के सभी महापुरुषों की छाया चित्र की भी प्रदर्शन लगेगी। ताकि नई पीढी उनके बारे में अवगत हो सके।
अखिलेश कुमार ने कहा कि शाहाबाद के लिए या शुभ संकेत है कि सभी राजनीतिक दल के लोग इस महोत्सव में एक साथ शिरकत करने की सहमति प्रदान की है। सभी लोग साथ बैठकर यहां के विकास की गति को तेज करने की संकल्प लेंगे। शाहाबाद महोत्सव में मनोज तिवारी भरत शर्मा जैसे कलाकार, चिकित्सा, साहित्य, राजनीतिक, कला संस्कृति क्षेत्रों से जुड़े लोगों ने भी आने की सहमति प्रदान की है। इस दौरान यहां से परंपरागत लोक संगीत तथा नृत्य का भी प्रदर्शन होगा। जिसमे सभी वर्तमान व पूर्व सांसद-विधायक, पैक्स अध्यक्ष, मुखिया, सरपंच, जिला परिषद सदस्य, यनि त्रिस्तरीय पंचायत प्रतिनिधियों को भी आमंत्रित किया गया है। संवाददाता सम्मेलन में मे सरोज चन्द्रवंशी, शैलेश कुमार, अशोक बैठा, मयंक उपाध्याय, सिकंजय सिंह, बंटी सिंह, आलोक कुमार, भोजपुरी गायक सर्वजीत सिंह आदि भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *